भोपाल । शिवराज कैबिनेट ने फैसला लिया है कि 1 मई से 18 वर्ष के ऊपर के लोगो का टीकाकरण निशुल्क किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में मजदूर को काम देने की पूरी व्यवस्था की गई है। उनको कहीं जाने की जरूरत नहीं है।आज मनरेगा में 21 लाख मजदूरों को काम दिया जा चुका है। उन्हें मप्र से बाहर जाने की जरूरत नहीं है। उन्हें सरकार 3 माह का मुफ्त राशन उपलब्ध करा रही है। मध्यप्रदेश में कोरोना के 13 हजार से ज्यादा नए केस मिले हैं। इसी के साथ प्रदेश में अब एक्टिव केस की संख्या भी 82 हजार से ज्यादा हो चुकी है। ऐसे में सरकार अब कुछ और सख्त कदम उठा सकती है। इस सिलसिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई। उधर, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री हितानंद भी सीएम हाउस पहुंचे। दोनों नेताओं की मुख्यमंत्री के साथ बैठक की। इससे पहले मंगलवार को नई गाइडलाइन जारी की गई है। इसमें कहा गया है कि आवश्यक सेवाएं देने वाले कार्यालयों को छोड़कर केंद्र और राज्य के सभी दफ्तरों में 10 फीसदी कर्मचारी ही उपस्थित रहेंगे।