नई दिल्ली । राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन असफलताओं से परेशान नहीं हैं और उन्होंने कहा कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी करना जारी रखेंगे। सैमसन ने पहले मैच में धुआंधार शतकीय पारी खेली थी। इस मैच में रॉयल्स को पंजाब किंग्स के हाथों करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ सैमसन का बल्ला नहीं चल पाया था। रॉयल्स की चेन्नई के हाथों 45 रन की हार के बाद सैमसन ने कहा, 'असल में खेल के इस प्रारूप में ऐसा होता रहता है। मेरा मानना है कि आईपीएल में जोखिम भरे शॉट खेलने जरूरी होते हैं। मैंने पहले भी कहा था कि जब मुझे सफलता मिली तब मैंने काफी जोखिम उठाया। यही वजह है कि मैंने शतक लगाया। इसलिए यह उस दिन और आपकी मानसिकता पर निर्भर करता है।' संजू कहते हैं कि वह अपने शॉट पर अंकुश नहीं लगाना चाहते हैं। शॉट्स खेलना चाहते हैं और उसी अंदाज में बल्लेबाजी करना जारी रखना चाहते हैं जैसी उन्हें पसंद है इसलिए सैमसन को अपनी राह में आने वाली असफलताएं भी मंजूर हैं। वह कहते हैं कि, 'मैं आउट होने को लेकर चिंतित नहीं हूं, लेकिन मैं आगामी मैचों में टीम की जीत में योगदान भी देना चाहता हूं।' आईपीएल लंबी अवधि का टूर्नामेंट है और कुछ मैचों में असफल होना सामान्य बात है। सैमसन ने कहा, 'अच्छे प्रदर्शन का दबाव हमेशा रहता है। जब आप आईपीएल में खेलते हैं तो दबाव रहता है। कुछ अवसरों पर आपको सफलता मिलती है और कुछ अवसरों पर आप नाकाम रहते हो। आईपीएल लंबी अवधि का टूर्नामेंट है और आपको लगातार 14 मैच खेलने होते है। ऐसे में कुछ मैचों में असफल होना सामान्य बात है।' बल्लेबाजी क्रम के बारे में रॉयल्स के कप्तान ने कहा कि शिवम दुबे का नंबर चार पर बल्लेबाजी करना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि बल्लेबाजी क्रम बहुत अच्छा है। शिवम दुबे ऐसा बल्लेबाज है जो स्पिन और तेज गेंदबाजी को अच्छी तरह से खेलता है। नंबर चार उसके लिए अनुकूल स्थान है। असल में यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है।'