गूगल के सीईओ (मुख्य कार्यकारी अधिकारी) सुंदर पिचाई ने कहा है कि भारत में कोरोना संक्रमण की हालत बहुत भयावह है। अभी हालात और खराब हो सकते हैं। पिचाई ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा, ‘भारत की हालत को देखना बहुत पीड़ादायक है। लेकिन अमेरिका में यह देखकर हमें प्रसन्नता हुई कि राष्ट्रपति जो बाइडेन, विदेश मंत्री ब्लिंकेन सहित उच्च स्तर पर भारत और अन्य प्रभावित देशों की मदद की पहल की गई है।’ अमेरिका से 440 ऑक्सीजन सिलेंडर, रेगुलेटर और करीब दस लाख रैपिड डायग्नोस्टिक टेस्ट शुक्रवार को भारत पहुंच गए हैं।

इस बीच, भारत विश्व व्यापार संगठन में कोरोना और मेडिकल सामग्री को बौद्धिक संपदा संबंधी अधिकाराें संबंधी पहलुओं से छूट दिलाने की कोशिश कर रहा है। इससे कम और मध्यम आय वाले देशों तक वैक्सीन की और ज्यादा पहुंच में मदद मिलेगी। अमेरिका में डेमोक्रेट्स द्वारा इसका समर्थन किया गया है लेकिन रिपब्लिकन विरोध कर रहे हैं।