पुलवामा हमले से कई माह पहले से ही आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का चीफ मौलाना मसूद अजहर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ मिलकर दिल्ली से कश्मीर तक हिंदुस्तान को दहलाने की साजिश रच रहा था. इस साजिश के लिए वो लगातार जम्मू कश्मीर के नौजवानों को अपनी जहरीली तकरीरों के जरिए भारत के खिलाफ भड़का भी रहा था.

हाल ही में भारत का मोस्ट वॉन्टेड आतंकी मौलाना मसूद अपने एक ऑडियो में कश्मीरी नौजवानों को कह रहा है 'कश्मीर नौजवानों क्या उस्मान बेटे की शहादत आप सबको खड़ा करने के लिए काफी नहीं है. इंडिया ने आपको ये आप्शन दिया है या कुफ्रत की यार करो. गुलामी कबूल करो या मजलूमियत के साथ मरो. आप ये दोनों आप्शन उसके मुंह पर मार कर इज्जत और शहादत के रास्ते पर आ जाएं.'

मौलाना मसूद अजहर का ये सबसे ताजा ऑडियो दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और मिलिट्री इंटेलिजेंस के हाथ लगा है. दरअसल, 24 जनवरी को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और मिलेट्री इंटेलिजेंस ने दिल्ली से जैश के आतंकी अब्दुल लतीफ गनी को गिरफ्तार किया था और गनी की पूछताछ के बाद जम्मू कश्मीर से हिलाल अहमद भट्ट को गिरफ्तार किया गया था. इन दोनों की गिरफ्तारी के बाद ही दिल्ली में जैश के बड़े हमले की साजिश का पर्दाफाश हुआ था.

गिरफ्तार किए गए जैश के दोनों ही आतंकियों की मोबाइल मैपिंग में खुफिया एजेंसियों के हाथ मौलाना मसूद अजहर का ताजा आडियो और एक वीडियो भी लगा था. जिससे खुलासा हुआ कि घाटी में सेना के हाथों मारे गए आतंकी उस्मान के बाद मौलाना मसूद बौखलाया हुआ है और हिंदुस्तान में बड़े हमले की साजिश रच रहा है.

दरअसल, मौलाना जिस उस्मान बेटे का जिक्र अपने ताजा ऑडियो में कर रहा है, वो कोई और नहीं बल्कि उसका अपना भतीजा ही है. साल 2018 में सेना ने एक ऑपरेशन में मौलाना मसूद अजहर के भतीजे उस्मान को मार गिराया था. जिसके बाद से ही मौलाना बदले की आग में झुलस रहा था. इतना ही नहीं मौलाना बार-बार अपनी जहरीली तकरीरों में उस्मान का हवाला देकर कश्मीरी नौजवानों को भारत के खिलाफ भड़का रहा था.

मौलाना अपने ऑडियो में भारत को उखाड़ फेंकने की बात कर रहा है. वैसे मौलाना भारत को कमजोर करने का ख्वाब पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों की सरपरस्ती में कई वर्षों से देख रहा है. जो कभी पूरा होने वाला तो नहीं ही है. लेकिन अपनी जहरीली तकरीरों के जरिए वो कश्मीर के नौजवानों को जेहाद के दलदल में जाने के लिए उकसा जरूर रहा है. जिसका नतीजा सिर्फ मौत है.