राजनांदगांव छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में एक ज्वैलर्स के यहां जारी छापेमारी में पांच टन चांदी, साढ़े चार किलो सोना सहित 32 लाख रुपए कैश बरामद किए गए हैं। जिले के नंदई स्थित जसराज शांतिलाल बैद फर्म के मोहनी ज्वेलर्स में केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क (CBIC) की टीम ने छापा मारा है। यह टीम पिछले दो दिनों से अपनी कार्रवाई कर रही है। इस दौरान सोना, चांदी, कैश बरामद हुआ है। बताया जा रहा है कि सोना-चांदी से जुड़ी तस्करी को लेकर ये छापेमारी की गई है।

राजनांदगांव से मिली जानकारी के अनुसार केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क की टीम ने 1 मई को दोपहर करीब 12 बजे के आसपास जसराज शांतिलाल बैद के नंदई स्थित मकान में छापेमारी की है, जो रविवार देर रात तक चली है। केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क के अधिकारी तीन गाड़ियों से सवार होकर ज्वेलर्स के मकान में पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू कर दी। इस दौरान किसी को न भीतर जाने दिया गया और न ही किसी को बाहर जाने की अनुमति थी। इस टीम ने लगातार दो दिनों तक अपनी कार्रवाई की है।

बताया जा रहा है कि इस टीम ने रायपुर से 13 किलो सोना समेत 4 आरोपियों को हिरासत में लिया था। जिसके बाद इन लोगों के इनपुट के आधार पर टीम ने छापेमारी की है। बहरहाल इस संबंध में मौके पर पहुंचे जांच में शामिल अधिकारियों ने मीडिया से किसी प्रकार से कोई चर्चा नहीं की है।

रायपुर से पहुंची जांच टीम की वो गाड़ी जिसमें अधिकारी मौके पर पहुंचे थे।

लगातार दो दिनों से चल रही कार्रवाई से कई और बड़े खुलासे होने की संभावना

जानकारी के अनुसार मोहनी ज्वेलर्स को सील कर दिया गया है। इसके साथ ही उनके एक मकान को भी सील किया गया है। बताया जा रहा है कि केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क की टीम में करीब 12 से अधिक अधिकारी शामिल थे। साथ ही साथ स्थानीय पुलिस की भी मदद ली गई है। लेकिन अभी तक टीम की तरफ से किसी प्रकार की कोई जानकारी मीडिया से साझा नहीं की गई है।

राजनांदगांव के ASP कविलाश टंडन ने बताया कि हमें जानकारी दी गई है कि मोहनी ज्वेलर्स के मकान से 5 टन चांदी, साढ़े चार किलो सोना व 32 लाख रुपए नगद बरामद किए गए हैं। यह कार्रवाई केन्द्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क की टीम ने रायपुर से मिले इनपुट के आधार पर की है। फिलहाल अभी आगे की कार्रवाई की जा रही है।