जगदलपुर लॉकडाउन के दौरान जब लोग परेशान हैं। ऐसे में कुछ शातिर ठग लोगों का फायदा उठाने में लगे हैं। ऐसे ही दो ठगों को छत्तीसगढ़ पुलिस ने जगदलपुर से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए दोनों आरोपी खुद को पुलिस अफसर और पत्रकार बताकर वाहन चेकिंग के नाम पर वसूली करते थे। इनमें से एक पुलिस का बर्खास्त सिपाही है। वहीं दूसरा आरोपी खुद के एक स्थानीय अखबार का पत्रकार बताता था।

बोधघाट क्षेत्र में चालक सुखराम कश्यप 1 मई को ट्रैक्टर ट्रॉली में ईंट लेकर जा रहा था। इसी दौरान ग्राम करकापाल में उसे दो लोगों ने रोक लिया। उनसे एक ने खुद को पत्रकार बताया और दूसरे ने पुलिस अफसर। इसके बाद चेकिंग के नाम पर ट्रैक्टर के कागजात मांगे और नहीं होने पर 5 हजार रुपए की मांग की। इस पर सुखराम ने रुपए नहीं होने की बात कहकर बाद में देने के लिए कहा, पर आरोपियों ने 400 रुपए ले लिए।

अगस्त 2020 में नौकरी से निकाला गया तो धोखाधड़ी शुरू कर दी

इस पर ट्रैक्टर मालिक विश्वेश्वर राव ने FIR दर्ज करा दी। पुलिस ने जांच के आधार पर आरोपी शंकर सिंह उर्फ सोनू को पकड़ लिया। पूछताछ के बाद दूसरा आरोपी प्रमोद कंवर भी हत्थे चढ़ गया। शंकर सिंह खुद को एक अखबार का पत्रकार बताता था। वहीं प्रमोद कंवर पुलिस का बर्खास्त सिपाही है। उसे अगस्त 2020 में नौकरी से निकाल दिया गया था। इसके बाद से फ्रॉड करने लगे। आरोपियों से 2 मोबाइल और 400 रुपए बरामद हुए हैं।