रिकार्ड 898 नए मरीज मिले, 4 की मौत, विजयवर्गीय बोले - इंदौर में डर है, हॉस्पिटल भरे हुए हैं, बैठकर निर्णय लें, अनिर्णय किसी भी काम के लिए अच्छा नहीं होता

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने जाहिर की चिंता।

कोरोना के बढ़ते आंकड़ों के बीच संक्रमण से लड़ने के लिए जरूरी रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत भी शुरू हाे गई है। पिछले 24 घंटे में काेराेना के रिकार्ड 898 नए मरीज मिले हैं। चार मरीजों की जान भी गई है। एक्टिव मरीजों की संख्या 6563 हो गई। बढ़ते संक्रमण को लेकर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल में रहते हुए भी यहां के हालात को लेकर चिंता जाहिर की है।

उन्होंने लिखा - मैं इंदौर के सभी राजनैतिक दलों के जनप्रतिनिधियों और जिला प्रशासन के अधिकारियों से निवेदन करता हूं कि इंदौर में डर है, हॉस्पिटल भरे हुए हैं, दवा नहीं है, ऑक्सीजन की कमी है, कल क्या होगा! एक साथ बैठकर इंदौर को विश्वास दिलाएं और निर्णय लें, अनिर्णय किसी भी काम के लिए अच्छा नहीं होता। मेरे मित्र उद्योगपति संजय अग्रवाल ने कोविड के दौरान अस्पतालों में ऑक्सीजन गैस खत्म होने पर, अपना उत्पादन कम कर 600 सिलेंडर हॉस्पिटल को रोज नि:शुल्क देना तय किया है।

7 दिनों की बात करें तो 23 मरीजों की जान गई

देर रात 5603 टेस्ट में 4672 निगेटिव, 898 पाॅजिटिव, 16 रिपीट पाॅजिटिव मरीज मिले। अप्रैल के 7 दिनों की बात करें तो 23 मरीजों की जान गई है। अब तक कुल 985 की मरीज वायरस से दम तोड़ चुके हैं। जिले में अभी 6553 एक्टिव मरीज हैं। अब तक कुल 75 हजार 893 मरीजों में से 68 हजार 245 ठीक होकर घर लौट चुके हैं। पिछले 7 दिनों से लगातार एक्टिव मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।


मंत्री ने कहा- लॉक डाउन की संभावना से इंकार नहीं

कोरोना के बुरे हालात के बीच लोगों को जागरूक करने पहुंचे कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट ने लॉक डाउन के संकेत दिए हैं। उन्होंने की जरूरत पड़ी तो इस पर भी विचार करेंगे। भाजपा नगर अध्यक्ष गौरव के साथ सिलावट ने राजबाड़ा सहित प्रमुख बाजारों में जन-जागरण अभियान चलाया। लाउडस्पीकर के माध्यम से आमजन को इस महामारी से बचने के उपाय बताए। मास्क भी वितरित किए।

महाजन का संकेत, जरूरत पड़ी तो घर भी बैठना पड़ेगा

रेसीडेंसी कोठी पर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने भाजपा- कांग्रेस के नेताओं और जनप्रतिनिधियों की बैठक बुलाई। बैठक में मंत्री तुलसी सिलावट औऱ उषा ठाकुर भी शामिल हुए। महाजन ने अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी और रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए दवा दुकानों में लग रही भीड़ पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि रेडमेसिविर की उपलब्धता बढ़ाने पर गंभीरता से काम होना चाहिए। अगर कालाबाजारी हो रही है तो सख्ती से रोकना चाहिए। कोई दूसरा विकल्प भी तलाशा जाना चाहिए। बैठक के दौरान कम से कम सात दिन के लॉक डाउन पर भी सहमति बनी। सभी ने कहा कि हालात बिगड़ रहे हैं, सख्त फैसले लेने का समय है। मीडिया से बातचीत में महाजन ने लॉकडाउन की संभावनाओं से इंकार नहीं किया। कहा कि हालात खराब है और जरूरत पड़नेपर घर भी बैठना पड़ेगा।

इन इलाकों में मिला सबसे ज्यादा संक्रमण

सोमवार सुबह 328 एरिया में संक्रमित मिले। इसमें सबसे ज्यादा विजय नगर में 28, मूसाखेड़ी में 16, सुदामा नगर, स्कीम नंबर 71, महालक्ष्मी नगर में 15-15, गुमाश्ता नगर और सिलिकॉन सिटी में 12, सुखलिया में 11, नंदानगर और पालदा में 10-10, इंडेक्स मेडिकल कॉलेज और बिचौली मर्दाना में 9-9, तिलक नगर, द्वारिकापुरी, अपोलो डीबी, सूर्यदेव नगर और चंद्रलोक कॉलोनी में 8-8, आजाद नगर, अंबिकापुरी, सिल्वर ऑक्स कॉलोनी, रेडियो कॉलोनी, स्कीम नंबर 54, विद्यानगर, पीथमपुर, राजेंद्र नगर में 7-7, पालसीकर, खातीवाला टैंक, केंट एरिया महू, सिद्धार्थ नगर, वर्धमान नगर, आलोक नगर, लसुड़िया, महू, वसंत पुरी, निपानिया में 6-6 मरीज मिले हैं। इसमें 9 क्षेत्राें में 5-5, 21 में 4-4, 26 में 3-3, 66 में 2-2, 165 एरिया में 1-1 मरीज मिले हैं।