Friday, 20 April 2018, 6:11 PM

धर्म कर्म

महोदर नाम सुनते ही इस दैत्य का दूर हुआ अहंकार

Updated on 2 September, 2014, 12:58
भगवान गणेश ने महोदर अवतार मोहासुर का विनाश करने के लिया था। इस अवतार में उनका वाहन मूषक था। मोहासुर दैत्यराज शुक्राचार्य का प्रिय शिष्य था। इस दैत्य ने अपने गुरु से आशीर्वाद लेकर भगवान सूर्य का तप किया। भगवान सूर्य ने मोहासुर को सर्वत्र विजयी होने का वरदान दिया। वर... आगे पढ़े

गणेशोत्सव में गूंजा राधे-राधे...

Updated on 2 September, 2014, 12:54
बड़ौदा। कस्बे में गणेश उत्सव का उत्साह चरम पर है। गणेश उत्सव के दौरान मनमोहक झांकियों का आयोजन किया जा रहा है। बड़ौदा के गणेश चौक पर लगी झांकी में वृंदावन से आई कलाकारों की टीम रासलीला की भव्य प्रस्तुति दे रही है। रविवार की देर रात टीम के कलाकारों... आगे पढ़े

महाकालेश्वर मंदिर की व्यवस्थाओं में बदलाव लाने के निर्देश

Updated on 2 September, 2014, 12:35
उज्जैन : विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर की व्यवस्थाओं में बदलाव के निर्देश दिए गए हैं. महाकालेश्वर मंदिर में दर्शनाथियों की बढ़ती भीड़ के मद्देजनर देश के अन्य मंदिरों की सुव्यवस्थाओं का अध्ययन कर यहां भी उसी तरह की व्यवस्था लागू कराने के उद्देश्य से अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए... आगे पढ़े

गर्भ से नहीं तो फिर कैसे हुआ था कृष्ण प्रिया राधा का जन्म?

Updated on 1 September, 2014, 22:16
देवी राधा का जन्म दिवस भाद्रमास की शुक्लपक्ष की अष्टमी तिथि को माना जाता है। इस साल यह तिथि मंगलवार 2 सितंबर को है। पुराणों का मत है कि देवी राधा भगवान श्री कृष्ण से ग्यारह महीने बड़ी थी। ब्रह्मवैवर्त पुराण में देवी राधा जन्म से जुड़ी एक अद्भुत कथा... आगे पढ़े

वेदिनी में भड़के यात्री, हेलीकाप्टर लौटाया

Updated on 1 September, 2014, 22:00
वेदिनी बुग्याल । उच्च हिमालयी क्षेत्र में पहुंच चुकी राजजात में सरकारी व्यवस्थाएं बुरी तरह से चरमरा गई हैं। भारी भीड़ के सामने प्रशासन खुद को असहाय महसूस कर रहा है। बताया जा रहा है भारी संख्या में यात्री पहले से ही भगवाबासा और पातरनचौणियां पहुंच चुके हैं। रविवार को... आगे पढ़े

हर कदम रोमांच, हर पड़ाव रहस्य

Updated on 1 September, 2014, 21:58
वेदिनी बुग्याल । शायद यही देवभूमि है। इंसानी जीवटता की परीक्षा लेती घाटियों से गुजरती पगडंडियों पर हर कदम रोमांच से भरा है तो हर पड़ाव रहस्यमय। गैरोली पातल से तीन किलोमीटर लंबे सफर में ढाई किलोमीटर की कठिन चढ़ाई के बाद रिमझिम फुहारों और कोहरे के बीच राजजात समुद्र... आगे पढ़े

मुट्ठी भर इंतजाम, मुश्किल में यात्री

Updated on 1 September, 2014, 21:58
वेदनी बुग्याल । उच्च हिमालयी क्षेत्र में नंदा देवी राजजात की व्यवस्थाएं संभालने का दावा कर रही सरकार के लिए पहले ही पड़ाव पर मुश्किलें खड़ी हो गई। समुद्र तल से लगभग नौ हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित हिमालयी मार्ग के पहले पड़ाव गैराली पातल पहुंचते ही यात्रियों की... आगे पढ़े

बैसाखी का सहारे हिमालय सा हौसला

Updated on 1 September, 2014, 21:57
नील गंगा । उच्च हिमालय में तकरीबन नौ हजार फीट की ऊंचाई पर स्थिति गैरोली पातल की ओर बढ़ती राजजात में बैसाखियों की खट-खट यात्रियों का ध्यान खींच रही है। रणकधार तक ढाई किलोमीटर की लंबी चढ़ाई में हांफते लोग इस युवक का जुनून देख कर दंग हैं। दाहिने पैर... आगे पढ़े

मुश्किलें तो अब शुरू हुई हैं

Updated on 1 September, 2014, 21:56
वेदिनी बुग्याल : नंदा पथ के आखिरी गांव वाण से ही लगने लगा था कि आगे की राह आसान नहीं। जिन अधिकारियों को प्रशासन ने व्यवस्थाएं बनाने की जिम्मेदारी सौंपी थी, वो कहां हैं किसी को नहीं मालूम। होगा भी कैसे, नेटवर्क जो नहीं मिल रहा। वह तो गनीमत है... आगे पढ़े