मुंबई । मेरा मकसद लोगों के साथ हल्की-फुल्की बातचीत करना होता है, लेकिन उन्हें अपनी टिप्पणियों पर बड़ी चरम प्रतिक्रिया मिलती है। यह कहना है हमेशा ‎विवादों में रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत का। अभिनेत्री ने कहा, "मुझे लगता है कि मैं जो बहुत सी चीजें करती हूं या कहती हूं, वह बड़ी हल्की-फुल्की बातचीत होती है। 
कई बार लोग इसे गंभीरता से लेते हैं, क्योंकि वे अपने जीवन में बहुत ही गंभीर होते हैं और इस तरह से चीजें एक घटना से दूसरी में बदल जाती हैं। लेकिन मैं यह भी कहना चाहूंगी कि जिन लोगों की मैं आलोचना कर सकती हूं, उसके बाद मुझे उनसे मिलना और बातचीत करना बिल्कुल सहज लगता है, क्योंकि मेरे इरादे हमेशा बहुत हल्के रहे हैं।" मालूम हो ‎कि कई राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुकी अभिनेत्री ने अपने जन्मदिन के अवसर पर मुंबई और चेन्नई में अपनी आगामी फिल्म 'थलाइवी' का ट्रेलर लॉन्च किया था। इस साल 'मणिकर्णिका' और 'पंगा' के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला है। ए.एल. विजय द्वारा निर्देशित 'थलाइवी' 23 अप्रैल को हिंदी, तमिल और तेलुगू में रिलीज होने वाली है। 
उन्होंने आगे कहा, "लोग किसी के साथ बातचीत में स्पष्ट और ईमानदार होने के साथ बहुत सहज नहीं होते हैं। मुझे लगता है कि मुझे चरम प्रतिक्रियाएं मिलती हैं, जो कभी-कभी मुझे भी चकित कर देती हैं। जब आपके दिल में कोई एजेंडा नहीं होता है और अगर आप इसे अपने व्यक्तिगत उद्देश्य के लिए नहीं कर रहे हैं तो आप हमेशा जीतेंगे। इसके बारे में कोई दो तरीके नहीं हैं।" यह पूछे जाने पर कि क्या उनकी भविष्य की योजना राजनीति में आने की है, इस पर कंगना ने जवाब दिया, "अगर आज मैं देश, राष्ट्रवाद, किसानों या कानूनों के बारे में बात करती हूं, जो मुझे सीधे प्रभावित करते हैं, तो मुझे बताया जाता है कि मैं राजनेता बनना चाहती हूं। जबकि ऐसा नहीं है। मैं तो बस प्रतिक्रिया देती हूं।"