बिलासपुर । सही कह रहे ट्रेड यूनियन के अध्यक्ष सब मिले हुए है। तभी तो भांडा फूटने पर खनिज और पुलिस विभाग ने 5 ट्रक कोयले की अफरा-तफरी के मामले को रूट डायवर्ट का मामला बना 2 ट्रक को कोनी थाने में खड़ी करा 3 ट्रकों को छोड़ दिया। कोनी थाना पुलिस का कहना है कि हमे कुछ पता नही, खनिज विभाग ने इस मामले में कार्रवाई की और 2 गाडिय़ों को लाकर यहां थाना परिसर में खड़ी कराया है।
ये है मामला
बताया जाता है कि कोनी थाने के पास खनिज बैरियर में 16 अप्रैल की रात कोयला लोड 5 गाडिय़ों को पकड़ा गया था। आमाडाँड़ माइंस से रायगढ़ लिंकेज का माल रायपुर में खपाने ले जाया जा रहा था। मौके पर पहुचे कुछ युवाओं ने मोबाइल से वीडियो और फोटो शूट किया तो बैरियर के स्टाफ ने 2 गाडिय़ों को कोनी थाने में खड़ी करा दिया और 3 गाडिय़ों को छोड़ दिया।
मामला जाना था जापान पहुंच गए चीन जैसा
खनिज विभाग के अफसरों के जवाब से पूरा झोल सामने आ गया। सवाल यह उठ रहा कि जब इन कोयले से लोड गाडिय़ों को रायगढ़ ले जाना था तो गाडिय़ा कोनी कैसे पहुँच गयी। अफसर कह रहे कि चालक रास्ता भटक गए अब पता नहीं ड्राइव्हर भटके या प्रशासन और खनिज विभाग भटक गया, क्योंकि ये जवाब किसी के गले नहीं उतर रहा।
इससे भी हास्यास्पद जवाब भी जान लीजिए, जब पूछा गया तो बताया गया कि रुट डाइवर्ट का मामला बना दोनों गाड़ी को कोनी थाने में खड़ी कराया गया है। जब पूछा गया कि 3 और गाड़ी थी वो कहा गयी तो कहा गया नहीं 2 ही थी, हमने बताया कि हमारे पास 5 ट्रकों की तस्वीरें है, तब बताया गया कि वो 3 गाडिय़ा सही रूट पर थी इसलिये छोड़ दिया गया।
सेटिंग भिलाई से
कोयले के अफरा-तफरी का पूरा खेल भिलाई से संचालित हो रहा। वासरी, कास्ट कटिंग, लिंकेज, डस्ट से लेकर 1 नम्बर कोयले को प्लाट में पलट कर 2ठ्ठस्र और 3 ह्म्स्र ग्रेड बनाकर पूरे अफरा-तफरी के खेल का अलग-अलग रेट है। ये पूरा 5 ट्रक कोयला खरसिया के किसी प्लांट का बताया जा रहा।
रोकी गयी गाडिय़ों के नम्बर तो देखिये
कोनी बैरियर के पास रोककर दिनभर खड़ी कराई गई इन 5 गाडिय़ों जे नम्बर को ध्यान से देखिये पूरा मामला क्लियर हो जाएगा।
उपसंचालक मौन
 16 अप्रैल की रात से लेकर 17 अप्रैल और 18 अप्रैल को खनिज विभाग के उपसंचालक दिनेश मिश्रा को कॉल कर जानना चाहा कि पूरा मामला है, क्या परन्तु उन्होंने कॉल ही रिसीव नही किया।
रूट डायवर्ट का बनाया गया मामला
16 अप्रैल की रात गाडिय़ों को कोनी बैरियर के पास पकड़ा गया। रायगढ़ जाना था चालक रास्ता भटक कोनी आ गए इसलिए कोयला लोड दोनों गाडिय़ों को कोनी थाने में खड़ी करा रूट डायवर्ट का मामला बनाया गया।