कोरबा| जहां एक ओर जिला प्रशासन द्वारा रविवार के दिन जिले में संपूर्ण लॉकडॉउन घोषित किया गया है वही रिक्शे में घर घर से कचरा एकत्र करने का काम जिले के समस्त ज़ोन में किया जा रहा था कि तभी पोड़ीबाहर ज़ोन के कचरा गोदाम में उस समय हड़कंप मच गया जब घर घर जाकर एकत्र किए कचड़े को रिक्शा से निकाल रहे थे कि अचानक चीख पुकार मच गया। सब दौड़ के उस रिक्शा के पास पहुंचे फिर उस महिला कर्मी ने बताया कि इस बैग में बहुत सारे सांप के बच्चे हैं। जिसके बाद सुनील नामक कर्मचारी ने तुरंत स्नेक रेस्क्यू टीम के प्रमुख (वन विभाग सदस्य) जितेंद्र सारथी को इसकी जानकारी दी।
     जिसके बाद वहा खड़े होकर उस बैग पर ध्यान रखें हुए थे। कुछ देर बाद जितेंद्र सारथी अपनी टीम के सदस्य राजू बर्मन के साथ पहुंचे।
      उस बैग से एक एक कर साप के बच्चों को बाहर निकाल डब्बे में रखा गया। पूरी तरह संतुष्ट होने पर ही लोगों ने राहत की सास ली कि अब एक भी सांप बैग या रिक्शा में नहीं हैं। मौके मे वार्ड पार्षद प्रदीप राय भी पहुंचे और घटना की जानकारी ली। उन्होंने सफाई कर्मचारीयो के सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हर एक के लिए प्रशासन से हाथ ग्लव्स की मांग की साथ हीं जितेंद्र सारथी के कार्यों की प्रसंशा किया और सफाई कर्मचारी लोगों को ध्यान से काम करने को कहा गया।